जानिए आज 14 अप्रैल 2021 का पंचांग शुभ अशुभ मुहूर्त ,नवरात्रा के दूसरे दिन माता के कोनसे स्वरूप की पूजा होगी

जानिए आज 18 september 2021 का पंचांग शुभ अशुभ मुहूर्त पंडित बाल व्यास खेताराम जी के साथ
आज का पंचांग पंडित बाल व्यास खेताराम शास्त्री
Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

आज का पञ्चाङ्ग 

पंडित बाल व्यास खेताराम जी शास्त्री
दिनांक 14 अप्रैल 2021
तिथि द्वितीया – 12:49:33 तक
नक्षत्र भरणी – 17:23:00 तक
करण कौलव – 12:49:33 तक, तैतिल – 26:08:44 तक
पक्ष शुक्ल
योग प्रीति – 16:13:58 तक
वार बुधवार

सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ

सूर्योदय 06:10:43
सूर्यास्त  18:58:29
चन्द्र राशि  मेष – 24:10:11 तक
चन्द्रोदय 07:29:00
चन्द्रास्त 21:00:59
ऋतु वसंत

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत 1943 प्लव
विक्रम सम्वत 2078
काली सम्वत 5123
दिन काल 12:47:46
मास अमांत चैत्र
मास पूर्णिमांत  चैत्र

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त 12:09:00 से 13:00:11 तक
कुलिक 12:09:00 से 13:00:11 तक
कंटक 17:16:06 से 18:07:17 तक
राहु काल 12:34:36 से 14:10:34 तक
कालवेला / अर्द्धयाम 07:01:54 से 07:53:05 तक
यमघण्ट 08:44:16 से 09:35:27 तक
यमगण्ड 07:46:41 से 09:22:39 तक
गुलिक काल 10:58:37 से 12:34:36 तक

शुभ समय (शुभ मुहूर्त)

अभिजीत मुहूर्त कोई नहीं
दिशा शूल 
दिशा शूल उत्तर

 

नवरात्रि के नौ दिनों तक दुर्गा मां के अलग-अलग नौ रूपों की पूजा की जाती है आज माँ  ब्रह्मचारिणी की पूजा 

 

चैत्र नवरात्रि 13 अप्रैल से शुरू हो चुके हैं। नवरात्रि के नौ दिन दुर्गाजी के नौ स्वरूपों की पूजा करने से भक्तों को माँ की कृपा प्राप्त होती है। माँ दुर्गा की नव शक्तियों का दूसरा स्वरुप देवी ब्रह्मचारिणी का है। यहां ब्रह्म शब्द का अर्थ तपस्या है। ब्रह्मचारिणी अर्थात तप की चारिणी-तप का आचरण करने वाली। कहा भी हैं-वेदस्तत्वं तपो ब्रह्म-वेद,तत्व और तप ब्रह्म शब्द के अर्थ हैं। ब्रह्मचारिणी देवी का स्वरुप पूर्ण ज्योतिर्मय एवं अत्यंत भव्य हैं। इनके दाहिने हाथ में जप की माला एवं बाएं हाथ में कमंडल रहता हैं।

यह खबर भी पढ़ें:-   पीबीएम नर्सिंगकर्मियों के साथ मारपीट का मामला, मुख्य गेट के आगे धरना लगाकर बैठे नर्सिंगकर्मी, देखें वीडियो
दिन  तिथि  माता का स्वरूप 
नवरात्रि दिन 1 प्रतिपदा 13 अप्रैल (मंगलवार) मां शैलपुत्री (घट-स्थापना)
नवरात्रि दिन 2 द्वितीय 14 अप्रैल (बुधवार) मां ब्रह्मचारिणी
नवरात्रि दिन 3 तृतीया 15 अप्रैल (गुरुवार) मां चंद्रघंटा
नवरात्रि दिन 4 चतुर्थी 16 अप्रैल (शुक्रवार) मां कुष्मांडा
नवरात्रि दिन 5  पंचमी 17 अप्रैल (शनिवार) मां स्कंदमाता
नवरात्रि दिन 6  षष्ठी 18 अप्रैल (रविवार) मां कात्यायनी
नवरात्रि दिन 7  सप्तमी 19 अप्रैल (सोमवार) मां कालरात्रि
नवरात्रि दिन 8  अष्टमी 20 अप्रैल (मंगलवार) मां महागौरी (अष्टमी पूजा)
नवरात्रि दिन 9  नवमी 21 अप्रैल (बुधवार) मां सिद्धिदात्री (राम नवमी)
नवरात्रि दिन 10 दशमी 22 अप्रैल (गुरुवार) नवरात्रि पारण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here