तपस्वी बाबा के शोषण की रूह कंपाने वाली कहानी,भांग खिला किया दुष्कर्म

Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

श्री डूंगरगढ़ न्यूज़।।खुद को भगवान बताकर दुष्कर्म करने वाले तपस्वी बाबा की जमानत याचिका खारिज हो चुकी है। तपस्वी बाबा को भांकरोटा पुलिस ने 4 महिलाओं से दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किया था। फिलहाल बाबा जेल में है। तपस्वी बाबा महिलाओं को आश्रम में बुलाता और दावा करता था कि मैं ही भगवान हूं, तुम मेरी सेवा करो। सब कुछ गुरु को समर्पण कर दो। मीडिया ने बाबा के आश्रम में जाने वाली पीड़िता से बात की। नाम और पहचान नहीं छापने की शर्त पर पीड़िता ने बाबा की पोल खोली।

 

पति-पत्नी के बीच हुआ घरेलू विवाद, बाबा बोला रात को भी रुको

बिंदायका की रहने वाली महिला ने बताया कि उसका पति से घरेलू विवाद हो गया था। उसने एमएससी (IT) की है। उसे एक परिचित युवती ने बाबा के पास आश्रम में जाने की बात कही। आश्रम में बाबा ने कहा कि सब समाधान हो जाएगा। वह आश्रम में जाने लगी। साल भर सब सही चलता रहा। वह दिन में ही अक्सर आश्रम में जाती थी। तब बाबा ने उसे कहा कि रात को आश्रम में रुक कर सेवा किया करो। वह रात को भी आश्रम में रुकने लग गई। उसने रात को देखा कि कुछ महिलाएं अलग से बाबा के पास ऊपर बने कमरे में जाती हैं।

 

सेवा करने पर ही प्रसाद मिलेगा

बाबा की सेविका ने पीड़िता को कहा कि आज तुम्हें बाबा की सेवा करने चलना है। वह रात को अन्य महिलाओं के साथ गई। वहां पर महिलाएं बाबा के हाथ-पैर व सिर को दबा रही थीं। उसने भी बाबा के पैर दबाए। बाबा ने बोला कि सेवा करने पर ही प्रसाद मिलता है। दूसरे दिन फिर से उसे बाबा के पास ले गए। बाबा के हाथ-पैर दबाए। तीसरे दिन भी रात को उसे बाबा के पास ले गए। लगातार तीन दिन तक उसे रात के समय बाबा के पास सेविकाएं ले जाती रही।

यह खबर भी पढ़ें:-   CISF Constable Recruitment 2022 :1149 पदों पर जारी किया भर्ती का नोटिफिकेशन

 

कपड़े उतारने को कहा

पीड़िता ने बताया कि बाबा के पास चौथे दिन उसे रात को ले जाया गया। वहां पर कोई नहीं था। तब बाबा के हाथ-पैर दबाने लग गई। बाबा ने उसे कहा कि कपड़े उतारो। पीड़िता चुप हो गई और कुछ नहीं बोली। तब बाबा ने उसे दोबारा से कहा तो वह भाग कर बाबा के कमरे से नीचे आने लगी। बाबा ने उसे बोला कि मैं तो तुम्हारी परीक्षा ले रहा था। तुम तो मेरी बेटी जैसी हो। भक्त की परीक्षा लेना बहुत जरूरी होता है। अगले दिन फिर बाबा ने कमरे में बुलाकर भांग की गोली खिला दी। ईश्वर का ध्यान करो और समर्पण का भाव रख सब कुछ दे दो। नशा होने पर बाबा ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

 

6 महीने बाद सेविकाओं ने आश्रम में बुलाया

पीड़िता बाबा के आश्रम में 6 महीने तक नहीं गई। बाबा की सेविकाओं ने उसे आश्रम में आने के लिए बोला। वह आश्रम में गई तो बाबा ने उससे बात की। रात को बाबा के कमरे में उसे लेकर गए। तब बाबा ने उसे प्रसाद के रूप में भांग की गोली खिला दी। उसे कहा कि तुम्हारे सारे दुख दूर हो जाएंगे। मैं ही भगवान हूं, सब मुझे समर्पण कर दो। उसके साथ अश्लील हरकतें करने लगा। फिर दुष्कर्म किया।

 

बेटी का चल रहा था अफेयर

पीड़िता की बेटी का एक लड़के से अफेयर चल रहा था। परिवार में कुछ घरेलू कलह चल रहा था। इस दौरान बाबा की सेविकाओं ने आश्रम में आने को बोला। आश्रम में बाबा ने बोला कि बेटी को मेरे पास भेज दो। सब सही हो जाएगा। उसके पति ने बेटी को आश्रम में जाने की बात कही। तब पीड़िता ने बेटी को भेजने से मना कर दिया। पति नहीं माने तो उसने पूरी बात कही। इसके बाद एक-एक कर कई महिलाओं के साथ दुष्कर्म किए जाने की बात सामने आई

यह खबर भी पढ़ें:-   पूर्व कैबिनेट मंत्री और किसान नेता पुनिया का निधन काफी समय से चल रहे थे बीमार मुख्यमंत्री ने जताया शोक,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here