नोखा में MD नशे के साथ दो भाई गिरफ्तार, जानिए क्या हैं ये नशा

Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

श्री डूंगरगढ़ न्यूज़:- बड़े शहरों के बिगडेल बच्चे जो नशा करते हैं वो अब बीकानेर भी पहुंच गया है। बीकानेर के नोखा में पुलिस ने खतरनाक ड्रग्स एमडी के साथ दो युवकों को पकड़ा है। इनके पास से 58 ग्राम एमडी मिलने का दावा नोखा पुलिस ने किया है। इसकी कीमत करीब दो लाख रुपए हैं। नोखा पुलिस ने दो भाइयो रेवन्त व सीताराम को स्विफ़्ट कार सहित नोखा बायपास से पकड़ा है। आपरेशन प्रहार के तहत नोखा पुलिस की ये बड़ी कार्यवाही है। नोखा पुलिस अब पूरे नेटवर्क का पता लगाने में जुटी है।

नोखा थानाधिकारी ईश्वर प्रसाद जांगिड़ ने मीडिया को बताया कि नोखा में एमडी नामक नशा मिला है। आमतौर पर मुंबई और बड़े शहरों में ये नशा किया जाता है। पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली थी कि इन युवाओं के पास एमडी है। इस पर पुलिस ने नोखा बायपास पर इन्हें रोककर पूछताछ की गई। इस दौरान 58 ग्राम सामग्री मिली। ये एमडी बताया जा रहा है। पुलिस का अंदेशा सही है तो इसकी कीमत करीब दो लाख रुपए है। नोखा में इससे पहले भी 120 ग्राम एमडी पकड़ा गया था।

बड़े शहरों का नशा नोखा तक

 

ये नशा बड़े शहरों के बिगड़ैल युवा करते हैं और इसका ज्यादा इस्तेमाल उनके द्वारा आयोजित रेव पार्टियों में किया जाता है। दिल्ली, पुणे और महाराष्ट्र से ये ड्रग अवैध रूप से बिकती है। ऑनलाइन ड्रग की खरीदी बिक्री कैसे हो रही है? ये ड्रग कितने खतरनाक हैं? और यह काम चल कैसे रहा है? इस बारे में नोखा पुलिस तफ्तीश में जुट गई है।

यह खबर भी पढ़ें:-   चाईनीज माझे से कट कर मृत्यु होने पर सेन समाज ने जिला प्रशासन से लगाई न्याय की गुहार।

पिछले 5 साल में तेजी से बढ़ी पार्टी ड्रग की डिमांड

 

देशभर में पिछले 5 साल में सिंथेटिक और पार्टी ड्रग की डिमांड तेजी से बढ़ी है। हालांकि गांजा अब भी सबसे ज्यादा जब्त किए जाने वाला नशीला पदार्थ है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के मुताबिक, पार्टी ड्रग्स में एमडीएमए, म्याऊं म्याऊं और मॉली का इस्तेमाल बड़ी मात्रा में किया जा रहा है। ड्रग एन्फोर्समेंट एजेंसीज के अनुसार, मॉली को अवैध तरीके से म्यांमार से भारत लाया जा रहा है। चिंता की बात ये है कि कई प्रतिबंधित ड्रग्स को अलग-अलग नामों से ऑनलाइन ही बेचा जा रहा है।

क्या है एमडी/एक्सटेसी और कितनी खतरनाक?

 

पार्टी ड्रग्स मिथाइलीनडाइऑक्सी मेथैमफेटामाइन (MDMA) और मेफेड्रोन को कई नामों से बेचा जाता है। लगभग हर देश में इसके कोड नेम हैं। इस ड्रग को सूंघकर और पानी में मिलाकर भी लिया जाता है। नशे के बाजार में इस तरह की एक ग्राम ड्रग की कीमत काफी महंगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here