लुटेरों ने घर में अकेले रह रहे बुजुर्ग दंपती का रात के अंधेरे में काटा गला

अजमेर में वारदात स्थल का मौका मुआयना करती पुलिस.
अजमेर में वारदात स्थल का मौका मुआयना करती पुलिस.
Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

अजमेर. राजस्थान के अजमेर (Ajmer) जिला मुख्यालय पर लुटेरों ने घर में अकेले रह रहे एक बुजुर्ग दंपती का गला रेतकर उन्हें मौत (Double murde) के घाट उतार दिया. लुटेरे घर में रखा कीमती सामान लेकर फरार हो गये. वारदात की सूचना के बाद शहर में सनसनी फैल गई. पुलिस के आलाधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गये हैं. वे मौका मुआयना कर रहे हैं. अभी तक कातिलों का कोई सुराग नहीं लग पाया है. शहर में यह लगातार दूसरा दिन है जब हत्याओं का सिलसिला जारी रहा है. 2 दिन पहले ही क्लॉक टावर थाना क्षेत्र में मंदिर के बाहर एक खानाबदोश महिला की हत्या कर दी गई थी. सभी पहलुओं पूरे मामले की जांच में जुटी है.

पुलिस के अनुसार हत्यार की यह वारदात शहर के अलवर गेट थाना क्षेत्र में स्थित गुलाब बाड़ी इलाके में हुई है. पुलिस को अलसुबह सूचना मिली की गुलाब बाड़ी इलाके में अज्ञात लुटेरों ने एक बुजुर्ग दंपती को मौत के घाट उतार दिया है. इस पर पुलिस मौके पर पहुंची. प्रारंभिक जांच में सामने आया कि हत्या के शिकार हुये मदन सिंह चौहान और उनकी पत्नी नैना देवी अकेले रहते थे. बताया जा रहा है कि लुटेरों ने पहले दंपती के मकान की रैकी की. उसके बाद सोमवार रात को दंपती का गला रेत कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया. पुलिस मामले की कड़ी से कड़ी जोड़ने के लिये कई एंगल पर काम रही है.

एफएसएल टीम ने जुटाये सबूत
उसके बाद लुटेरे मकान में रखा कीमती सामान लेकर फरार हो गए. वारदात की पहली सूचना बुजुर्ग दंपती के पोते बीजेपी के पार्षद रजनीश चौहान ने पुलिस को दी. पुलिस घटनास्थल से एफएसएल टीम के माध्यम से सबूत जुटाने में लगी है. वहीं आसपास के लोगों से पूछताछ भी की जा रही है. गौरतलब है कि अजमेर में पिछले कुछ दिनों में आपराधिक वारदातें बढ़ी है. अलवर गेट थाना क्षेत्र में ही हत्या की यह लगातार तीसरी वारदात है. शहर में लगातार बढ़ रही आपराधिक वारदातों ने एक बार फिर पुलिस पर सवालिया निशान लगा दिये हैं.

यह खबर भी पढ़ें:-   5 वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म मामले में कोर्ट ने आरोपी को दोषी माना , कल सुनाई जाएगी सजा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here