WhatsApp Channel Click here Join Now

साण्डवा नर्सरी में 70 हजार पौधे तैयार , विश्व पर्यावरण दिवस विशेष….

विज्ञापन

श्री डूंगरगढ़ न्यूज़ साण्डवा :- पेड़ – पौधे व हरियाळी धरती का श्रंगार होते है , वृक्ष सुंदरता के साथ – साथ प्राणवायु व फल व ओषधियाँ भी देते है व प्रदुषण सें होने वाले दुष्प्रभाव को रोकते है व जहाँ अधिक पेड़ – पौधे होते है वहाँ अच्छी बारिश भी होती है ये शब्द गांव साण्डवा स्थित वन पौधशाला की इंचार्ज सहायक वनपाल रामरती मीणा ने कहे व साथ ही साण्डवा क्षेत्र के सभी नागरिकों सें अधिक सें अधिक पौधे लगाने की अपील की है।

Google Ad

विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष में क्षेत्रीय वन अधिकारी सुजानगढ़ ओकेश यादव के निर्देश अनुसार सांडवा नर्सरी में विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया पौधशाला इंचार्ज व कर्मचारियों द्वारा नीम , तुलसी , गिलोय आदि विभिन्न प्रजातियों के पौधे लगाए व पक्षियों के पीने के पानी के लिए 10 परिंडे भी लगाए जिनमें प्रतिदिन पानी डालने की शपथ ली।

इस वर्ष के लिए 70 हजार पौधे तैयार 

 

नर्सरी इंचार्ज रामरती मीणा ने बताया कि इस वर्ष के लिए विभिन्न किस्मों के 70 हजार पौधे तैयार किए गए है जिनमें खेजड़ी , नीम , शीशम , मेहंदी , कनेर , गुडेल , अनार , सहजना , फ्रांस , गुलमोहर , जामुन , बोगन वेल आदि किस्मों के पौधे सम्मिलित है।

साथ ही वर्तमान में 67    हजार 500 औषधीय पौधे गिलोय , तुलसी , अश्वगंधा , कालमेघ आदि नागरिकों को निशुल्क वितरण हेतु वर्तमान में तैयार किए जा रहे है।गौरतलब है कि यह वन पौधशाला चूरू जिले के ग्रामीण क्षेत्र की सबसें बड़ी वन पौधशाला है इसको आपणी योजना के पानी का कनेक्शन दिलाने के लिए भी ग्रामीणों ने जनप्रतिनिधियों सें अनुरोध किया है।