बीकानेर- स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही की हद पढ़े पूरी खबर

Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

श्री डूंगरगढ़ न्यूज़ बीकानेर ||  स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आयी। अपने ही विभाग के कर्मी को मृत घोषित कर दिया। महाजन के सीएचसी में काम कर रहे अकाउंटटेंट राजेश यादव को स्वास्थ्य विभाग के काग़ज़ातों में मृत दिखा दिया गया। जबकि वह पिछले छः माह से कर रहा हर रोज़ विभाग के लिए काम। पीबीएम होस्पिटल में भर्ती ही नहीं हुआ कोरोना पॉज़िटिव होने के बाद राजेश यादव । वही सीएमएचओ कार्यालय ने कर्मी की मौत के आँकड़े कर दिए जारी। पीड़ित व्यक्ति को हो रही परेशानी। इसको लेकर लापरवाही करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाही करने की माँग की है। दरअसल 27 अक्टुबर को राजेश यादव ने जांच करवाई जिसकी रिपोर्ट 29 अक्टुबर पॉज़िटिव आयी थी, 02 नवम्बर को विभाग ने सरकारी आंकड़ों में उसे मृत घोषित कर दिया। जबकि पीड़ित घर पर इलाज चल रहा था।
वही छह माह बाद 16 मई को सीएमएचओ विभाग ने अपने विभाग में कोरोना फ़्रंटियर के तौर मौत का आँकड़ा जारी किया। आख़िर इस गम्भीर प्रकरण की जवाबदही किसकी ? हॉस्पिटल अधीक्षक डा. परमिंदर सिरोही ने कहा ऐसा मरीज़ नहीं हुआ होस्पिटल में भर्ती।
सीएमएचओ डा. ओपी चाहर बोले अगर ऐसा सच तो मामला गम्भीर करेंगे प्रकरण की जाँच।

 

यह खबर भी पढ़ें:-   सावधान !! ब्लैक फंगस के 8 दिन में बढ़े1660 रोगी , तीन गुनी रफ्तार से भाग रहा रोग,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here