BSF के जवान ने की आत्महत्या: ,रात को भारत-पाक सीमा की रखवाली की, सुबह सिर में दो गोली मारी; घर में विवाद से परेशान थे,

Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

श्री डूंगरगढ़ न्यूज़ || जैसलमेर जिले में पाकिस्तान की सीमा से सटे शाहगढ़ बल्ज क्षेत्र में गुरुवार सुबह BSF के एक हेड कांस्टेबल ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मध्य प्रदेश के भिंड जिले का रहने वाला हेड कांस्टेबल हाल ही में छुट्‌टी मनाकर ड्यूटी पर लौटा था। बताया जा रहा है कि घरेलू विवाद के कारण वह परेशान चल रहा था। जिसके बाद आज सुबह उसने यह कदम उठा लिया।

भिंड निवासी 51 वर्षीय प्रेमसिंह यादव तीस अप्रैल को अपनी छुट्‌टी मना कर वापस जैसलमेर पहुंचा था। यहां आने के बाद उसे आइसोलेशन में रखा गया था। दो दिन पहले ही यादव को शाहगढ़ क्षेत्र की चिंकारा सीमा चौकी पर भेजा गया था। नाइट ड्यूटी करने के बाद आज सुबह चौकी पर पहुंचते ही उसने अपनी SLR राइफल से स्वयं के सिर में दो गोली मार दी। उसने घटना स्थल पर ही दम तोड़ दिया। बाद में BSF के अधिकारियों ने शाहगढ़ पुलिस को इसकी सूचना दी।

भाई के साथ चल रहा था जमीन विवाद

उसके साथ तैनात BSF के अन्य जवानों का कहना है कि छुट्‌टी से लौटने के बाद से वह लगातार परेशान चल रहा था। गांव में उसके भाई के साथ जमीन बंटवारे को लेकर विवाद काफी बढ़ गया था। इस कारण वह तनाव में था।

उल्लेखनीय है कि भारत-पाकिस्तान की सीमा पर थार के रेगिस्तान में शाहगढ़ बल्ज क्षेत्र सबसे अधिक विषम परिस्थितियों वाला क्षेत्र माना जाता है। इस क्षेत्र में विशाल रेतीले टीले है और पेड़-पौधे कहीं नजर नहीं आते हैं। यहां चलने वाली आंधियों में रेतीले टीले रोजाना अपना स्थान बदलते रहते है। इस कारण सीमा पर की गई तारबंदी भी ठहर नहीं पाती और हवा में झूल जाती है। ऐसे में BSF को हमेशा यहां बहुत अधिक सतर्कता बरतनी पड़ती है।

यह खबर भी पढ़ें:-   RBSE 10वीं-12वीं रिजल्ट का फॉर्मूला तैयार, जानिए पूरी ख़बर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here