WhatsApp Channel Click here Join Now

बीजेपी के पूर्व नेता व् पूर्व केंद्रीय मंत्री यसवंत सिन्हा हुआ TMC में शामिल यशवंत सिन्हा बीजेपी से काफी दिनों से नाराज चल रहे थे

बीजेपी के पूर्व नेता व् पूर्व केंद्रीय मंत्री यसवंत सिन्हा हुआ TMC में शामिल यशवंत सिन्हा बीजेपी से काफी दिनों से नाराज चल रहे थे और कई मोको पर बीजेपी की आलोचना कर चुके है ऐसा माना जा रहा है उनके सहारे ममता बनर्जी  बंगाल व् झारखंड की सिमा से सट्टे सीटों पर फायदा उठाना चाहती है

विज्ञापन

श्री डूंगरगढ़ न्यूज़

Google Ad

बीजेपी के पूर्व नेता व् पूर्व केंद्रीय मंत्री यसवंत सिन्हा हुआ TMC में शामिल यशवंत सिन्हा बीजेपी से काफी दिनों से नाराज चल रहे थे और कई मोको पर बीजेपी की आलोचना कर चुके है ऐसा माना जा रहा है उनके सहारे ममता बनर्जी  बंगाल व् झारखंड की सिमा से सट्टे सीटों पर फायदा उठाना चाहती है 82 वर्षीय सिन्हा झारखंड के हजारी बांग से कई बार सांसद रह चुके है सूत्रों के मुताबिकसिन्हा को राज्य सभा में भेज सकती है और सिन्हा ने कहा है की में पार्टी के अंदर रहकर पार्टी को पूर्ण सहयोग करुगा सिन्हा ने कहा है की हमारा पूर्ण प्रयास रहेगा की ममता बनर्जी व्  TMC की सरकार बनने व् बीजेपी को हारे और बीजेपी को रोकने के लिए झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी ममता बनर्जी को समर्थन देने की बात कही है हेमंत सोरेन ने अपने ट्वीट में कहा है की पार्टी अध्यक्ष आदरणीय दिशोम गुरु शिबू सोरेन जी के निर्देशानुसार बंगाल में साम्प्रदायिक ताकतों को रोकने के लिए झामुमो परिवार आगामी चुनाव ममता जी के नेतृत्व में TMC को समर्थन देगा।

 

साफ है की हेमंत सोरेन बंगाल में वोटो का बटवारा रोकना चाहता है ,झारखण्ड से सटा बंगाल का जंगल महल इलाका आदिवासी बेल्ट मना जाता है,

ऐसे समझे आदिवासी वोटो की राजनीति को समझने 

पश्चिम बंगाल में 6 % आदिवासी वोटर है,

बंगाल की 294  में से 16 सीटे आदिवासी समाज के लिए आरक्षित है,

बंगाल के 6 जिले झारखण्ड से सट्टे है और कुल २४ विधान सभा सीटो की सीमा झारखंड से लगाती है