एक तरफा प्यार में युवक ने महिला की हत्या की,पढ़े पूरी ख़बर

विधवा ने दर्ज कराया था रेप का केस, जमानत पर जेल से बाहर आते ही घर पहुंचा, चाकू से ताबड़तोड़ कई वार कर जान ली

विज्ञापन

Last Updated on 13, June 2021 by Sri Dungargarh News

श्री डूंगरगढ़ न्यूज || रेप केस दर्ज कराने से नाराज युवक जेल से जमानत पर छूटने ही युवती के घर पहुंचा और सोते समय उस पर ताबड़तोड़ चाकू से कई वार कर उसकी निर्मम हत्या कर दी। पास में सो रही मृतका की बहन बचाने आई तो आरोपी ने उसे भी चाकू से वार कर घायल कर दिया। इसके बाद मौके से फरार हो गया। पुलिस हत्यारे युवक की तलाश में जुटी हुई है। घटना को लेकर मृतका के परिजनों व ग्रामीणों ने अनादरा थाने के बाहर धरना दिया। साथ ही आरोपी की गिरफ्तारी की मांग पर अड़ गए।

रेवदर सर्कल ऑफिसर नरेंद्रसिंह देवड़ा ने बताया कि सिरोही जिले के अनादरा थाना क्षेत्र के नागाणी गांव की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता विधवा लक्ष्मी मेघवाल (25) शनिवार रात को अपनी बहन के साथ घर के बरामदे में सो रही थी। इस दौरान सिरोड़ी निवासी नेतराम उर्फ नेतिया (23) पुत्र मगाराम मेघवाल उसके घर में घुसा था सो रही लक्ष्मी मेघवाल पर चाकू से एक के बाद एक ताबड़तोड़ कई वार कर उसकी हत्या कर दी।

उसके पास सो रही उसकी छोटी बहन बीच बचाव करने लगी तो आरोपी ने चाकू से वार कर उसे भी घायल कर दिया। मौके से फरार हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतका के शव को अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया तथा घायल युवती को उपचार के अस्पताल में भर्ती करवाया।

आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर अनादरा थाने के बाहर प्रदर्शन करते मृतका के परिजन व ग्रामीण।
आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर अनादरा थाने के बाहर प्रदर्शन करते मृतका के परिजन व ग्रामीण।

महिला ने रेप का केस दर्ज करवा रखा था आरोपी पर
लक्ष्मी मेघवाल व आरोपी नेतराम दोनों एक ही जाति के हैं। साथ ही सिरोड़ी गांव में एक ही मोहल्ले में रहते हैं। लक्ष्मी का ससुराल नागाणी गांव में था। इस दौरान आरोपी नेमराम के खिलाफ 2017 में बलात्कार के प्रयास का मामला दर्ज कराया था। इसके बाद मृतका ने 2020 में नेतराम के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। इस पर आरोपी को जेल हुई थी।

यह खबर भी पढ़ें:-   केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल श्रीडूंगरगढ़ पहुंचे,राजकीय चिकित्सालय का निरीक्षण किया

जेल से छूटते ही महिला को किए अलग-अलग नम्बरों से कॉल, बात नहीं बनी तो की हत्या
लक्ष्मी की ओर से दर्ज करवाए गए बलात्कार के मामले में आरोपी नेतराम जेल में था। अप्रैल में वह जमानत पर जेल से रिहा हुआ। उसके बाद उसने मृतका को कॉल किया। उसने रिसीव नहीं किया तो आरोपी ने अलग-अलग नंबरों से उसे कॉल कर परेशान करने लगा। उसे केस वापस लेने की धमकी देने लगा। वो नहीं मानी तो आरोपी ने शनिवार रात करीब साढ़े नौ बजे मृतका के घर नागाणी पहुंचा। बरामदे में सो रही मृतका की चाकू से वार कर निर्मम हत्या कर दी।

4 साल पहले हो चुकी हैं पति की मौत
मृतका लक्ष्मीदेवी के पति की करीब 4 साल पहले हार्ड अटैक से मौत हो गई थी। तब से महिला आंगनबाड़ी में काम कर घर चला रही थी। वह अपने ससुराल में ही रह रही थी। आरोपी मृतका के गांव का था तथा उससे पहचान रखता था। जो उससे एक तरफा प्यार करता था।

घर छोड़ने का झांसा देकर किया था रेप
मृतका व आरोपी नेतराम दोनों एक ही जाति के है तथा सिरोड़ी गांव में एक ही मोहल्ले में रहते हैं। मृतका का ससुराल नागाणी गांव में था। आरोपी महिला से एक तरफा प्यार करता था। नवम्बर 2020 में महिला ने आरोपी के खिलाफ अनादरा थाने में दुष्कर्म करने का मामला दर्ज कराया था। इसमें बताया कि वह अपने पीहर सिरोड़ी जा रही थी। इस दौरान नेमराम उसे रास्ते में मिला तथा गांव छोड़ने का आश्वासन देकर बाइक पर बिठाया। परिचित होने के कारण वह उसकी बाइक पर बैठ गई थी।

यह खबर भी पढ़ें:-   योजना का फायदा:-खाद्य सुरक्षा योजना में चयनित परिवारों काे कल से मिलेगा यह फायदा

रिपोर्ट में बताया था कि बीच रास्ते एक सूनसान खेत में आरोपी उसे ले गया तथा उसके साथ बलात्कार किया। जिस पर उसने आरोपी के खिलाफ अनादरा थाने में दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया। इसके साथ ही आरोपी के खिलाफ 2017 में एक अन्य युवती ने भी रेप के प्रयास का मामला दर्ज कराया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here