अक्षय तृतीया पर भूलकर ना करें ये काम, लक्ष्मी जाएंगी रूठ

Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

हिंदू धर्म में त्योहार का विशेष महत्व है. इनमें एक अक्षय तृतीया का त्योहार भी है. वैशाख महीने की शुक्‍ल पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया कहा जाता है. अक्षय तृतीया 14 मई को यानी आज मनाई जा रही है. हिंदू मान्यताओं के अनुसार, हर शुभ और मांगलिक कार्यों को करने के लिए इस तिथि को बेहद शुभ माना जाता है. शास्त्रों के अनुसार, इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा करने से उनकी असीम कृपा बरसती है. पर कुछ ऐसे कार्य भी हैं जिन्हें इस दिन करने की मनाही होती है. आइए जानते हैं अक्षय तृतीया के दिन ऐसे कौन से कार्य हैं जिनके करने से मां लक्ष्मी नाराज हो सकती हैं.

इस दिन किसी के प्रति क्रोध की भावना नहीं रखनी चाहिए. अक्षय तृतीया के दिन मां लक्ष्मी की पूजा-अर्चना करने के बाद किसी के प्रति मन में बुरे विचार रखने से मां लक्ष्मी क्रोधित हो सकती हैं.

 

अक्षय तृतीया के दिन मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा की जाती है. इस पूजा में तुलसी के पत्तों का प्रयोग होता है. इसलिए बिना स्नान किए तुलसी के पत्तों को नहीं तोड़ना चाहिए. ऐसा करने से मां लक्ष्मी रुष्ट हो सकती हैं.

अक्षय तृतीया के दिन स्नान आदि से निवृत होकर साफ-स्वच्छ कपड़े पहनकर ही मां लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए. पूजा के लिए शुद्धता का विशेष ध्यान रखना चाहिए.

 

अक्षय तृतीया के दिन खाली हाथ घर लौटना शुभ नहीं माना जाता है. इस दिन शुभ फल की प्राप्ति के लिए सोने की वस्तु जरूर खरीदें. अगर सोना खरीदना संभव न हो तो आप अपनी क्षमतानुसार किसी अन्य धातु से बनी चीज खरीद सकते हैं.

यह खबर भी पढ़ें:-   नगरपालिका के पूर्व चेयरमैन जीवराज नाई की चोथी पुण्यतिथि पर सेन मंदिर में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन


अक्षय तृतीया के दिन मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा होती है. इस खास मौके पर कभी भी मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा अलग-अलग नहीं करनी चाहिए. अक्षय तृतीया के दिन मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की एक साथ पूजा करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है.

अक्षय तृतीया पर दिन का सबसे शुभ मुहूर्त लिख लें, आखा तीज पर ऐसे करें मां लक्ष्मी का पूजन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here