जानिए क्यों आज राजस्थान में 7 हजार पेट्रोल पंप रहेंगे बंद। पढ़े पूरी खबर

rajasthan-7-thousand-petrol-pumps-will-remain-closed-on-april-10-due-to-a-1-day-strike
Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

श्री डूंगरगढ़ न्यूज :-आज राजस्थान के 7 हजार पेट्रोल पम्प सुबह 6 बजे से रात 12 बजे तक बंद रहेंगे  राजस्थान पेट्रोल पंप डीलर्स एसोसिएशन (Rajasthan Petrol Pump Dealers Association) ने बंद का यह निर्णय किया है, जिसके तहत पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल, डीजल और ऑयल की न तो खरीद होगी , और ना ही पेट्रोल की बिक्री  रहेगी. इससे प्रदेश में इसकी बिक्री में 34 % तक की गिरावट आ गई है और डीलर्स के साथ-साथ सरकार को भी राजस्व का नुकसान हो रहा है.

जानिए क्यों रहेंगे पैट्रोल पम्प बंद

राजस्थान के सभी 7 हजार पेट्रोल पंप आज  सुबह 6 से रात 12 बजे तक पूरी तरह बंद रहेंगे. पंजाब के समान राजस्थान में भी डीजल पर रेट घटाए जाने की मांग को लेकर पेट्रोलियम डीलर्स ने हड़ताल पर जाने का ऐलान कर दिया है. पड़ोसी राज्यों में सस्ता होने के कारण राजस्थान में डीजल की काफी तस्करी हो रही है. इस कारण राजस्थान के सीमावर्ती जिलों के पेट्रोल पंप बंद होने के हालात में आ गए. पड़ोसी राज्यों हरियाणा, गुजरात और उत्तर प्रदेश से आने वाले डीजल को बायोडीजल और उद्योगों में काम आने वाले फ्यूल के नाम से बेचा जा रहा है. डीजल की तस्करी बढ़ने से राजस्थान के पेट्रोल पंप संचालक और आम आदमी परेशान है.

मांगे नहीं मानने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी  

राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनीत बगई (Sunit Bagai) ने बताया कि राजस्थान में राज्य सरकार की ओर से वेट दरों में वृदिृध के कारण प्रदेश में पड़ोसी राज्यों की तुलना में करीब 5 से 10 रुपए तक महंगा है. उन्होंने कहा कि महंगाई से जनता की भी कमर टूट रही है. बगई ने कहा कि राज्य में पेट्रोल डीजल पर वैट कम करने और प्रदेश स्तर पर एक समान मूल्य रखे जाने की मांग को लेकर यह एक दिवसीय हड़ताल की जा रही है. मांगें नहीं मानने पर 25 अप्रेल से अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी भी उन्होंने दी है.

यह खबर भी पढ़ें:-   बीकानेर में आग ने लिया रौद्र रूप , खेत व ढाणियां से निकल भागे लोग

क्या है एसोसिएशन का दावा

एसोसिएशन का दावा है कि राज्य में पड़ोसी राज्यों से महंगा पेट्रोल और डीजल होने के कारण प्रदेश में इसकी बिक्री में 34 प्रतिशत तक की गिरावट आ गई है और डीलर्स के साथ सरकार को भी राजस्व का नुकसान हो रहा है. विशेषकर पंजाब के सीमावर्ती जिलों के पेट्रोल पंप ज्यादा प्रभावित हैं. उनकी डीजल की बिक्री 70 प्रतिशत तक गिर गई है. इस हड़ताल को विश्वकर्मा क्षेत्रीय ट्रांसपोर्ट व्यापार मंडल समिति, राजस्थान टैंकर ट्रांसपोर्टेशन एसोसिएशन ने भी समर्थन किया है. हड़ताल के दौरान आपातकालीन वाहनों अग्निशमन, एंबुलेंस और अन्य वाहनों को आपूर्ति की जाएगी.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here