Yoga Day 2021: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस आज, पीएम मोदी सुबह 6.30 बजे देश को करेंगे संबोधित

Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

श्री डूंगरगढ़ न्यूज़ || पीएम नरेंद्र मोदी आज अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day 2021) के मौके पर देश को संबोधित करेंगे. इस वर्ष की थीम ‘योग फॉर वेलनेस’ है, जो शारीरिक और मानसिक कल्याण के लिए योग का अभ्यास करने पर केंद्रित है.पीएम ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. उन्होंने लिखा कि ’21 जून को हम 7वां योग दिवस मनाएंगे. सुबह करीब साढ़े छह बजे योग दिवस कार्यक्रम को संबोधित करूंगा.’

जानकारी के मुताबिक, पीएम मोदी के संबोधन को दूरदर्शन समेत अन्य चैनल्स पर लाइव दिखाया जाएगा. इस कार्यक्रम में आयुष मंत्रालय के राज्यमंत्री किरेन रिजिजू भी संवाद करेंगे. देशभर में अलग-अलग स्थानों पर होने वाले कार्यक्रमों में अपने क्षेत्रों की हस्तियां शामिल होंगी.

हालांकि, कोरोना प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए एक स्थान पर 20 लोग ही कार्यक्रम में शामिल होंगे. बताया जा रहा है कि केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रह्लाद सिंह पटेल सुबह 7 बजे से 7.45 बजे तक मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ लाल किला परिसर में योग करेंगे.

गौरतलब है कि कोरोना के चलते इस बार कोई सार्वजनिक योग कार्यक्रम नहीं होगा. पीएम मोदी और अन्य लोगों के संबोधन के बाद सुबह योग किया जाएगा. लोग घर पर ही रहकर वर्चुअली योग कार्यक्रम में भाग लेंगे. इसके बाद आध्यात्मिक और योग गुरुओं का संबोधन होगा.

योग दिवस के मौके पर भारत सरकार का संस्कृति मंत्रालय 75 ऐतिहासिक स्थानों पर योगा एन इंडियन हेरिटेज कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है. इसके तहत पूरे देश में 75 स्थानों से जिनमें विश्व धरोहर स्थल, स्मारक, सांस्कृतिक, ऐतिहासिक स्थल शामिल हैं.

यह खबर भी पढ़ें:-   जानिए क्यों आज राजस्थान में 7 हजार पेट्रोल पंप रहेंगे बंद। पढ़े पूरी खबर

भारत की पहल से शुरू हुआ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 

21 जून यानी योग दिवस. वो दिन जब पूरी दुनिया योग को सलाम करती है..योग को अपनाने का प्रण करती है. योग दिवस पर कई बड़े कार्यक्रम होने हैं. अब जानिए कि योग के जरिए दुनिया में कैसे हिंदुस्तान का डंका बजता रहा है. योग है तो सेहत की सुरक्षा है. योग है तो जिंदगी है. हिन्दुस्तान की इसी सोच को दुनिया अपना चुकी है. अब पूरे विश्व पटल पर योग दिवस की तैयारी चल रही हैं. बस कुछ घंटे का इंतजार है, जब दुनियाभर के लोग 7वें योग दिवस को उत्साह और जोश के साथ मनाएंगे.

भारत की पहल पर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरूआत 7 साल पहले हुई थी. तब से अब तक साल दर साल इसका भव्य आयोजन हुआ है. पिछली बार कोरोना के खतरे की वजह से इसे टाल दिया गया था. तब प्रधानमंत्री मोदी ने अपना वीडियो संदेश जारी किया था. कोरोना की दूसरी लहर के खतरे के बीच फिर से जिंदगी पटरी पर लौट रही है तो तैयारी 7वें योग दिवस की भी हो चुकी है.

हालांकि इस बार का आयोजन बदला-बदला सा है. कोरोना की वजह से हर बार की तरह सामूहिक आयोजन ना होकर अबकी बार वर्चुअल प्रोग्राम होने जा रहा है. योग प्रधानमंत्री मोदी की दिनचर्या में शामिल है. अक्सर उनकी योग करते हुए तस्वीरें कई बार दिख चुकी हैं. कई मंच पर पीएम मोदी योग की खासियत का बखान भी कर चुके हैं.

कैसे 21 जून बना अंतरराष्ट्रीय योग दिवस

27 सितंबर 2014 को पीएम मोदी ने ही संयुक्त राष्ट्र महासभा में योग दिवस का प्रस्ताव रखा था. हिन्दुस्तान का डंका पूरी दुनिया में उस वक्त बजा जब महासभा ने 193 देशों में से 177 देशों के समर्थन से प्रस्ताव को स्वीकार किया था. देश में 2015 में पहले विश्व योग दिवस पर राजपथ सजा था. तब पीएम मोदी के नेतृत्व में राजपथ से योग की ताकत पूरी दुनिया ने देखी थी. हर साल की तरह इस साल भी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस खास रहने वाला है. क्योंकि इस बार भी इस खास दिन का जुनून सिर चढ़कर बोल रहा है.

यह खबर भी पढ़ें:-   क्या लाशों को विक्सिन लगा रहा है चिकित्सा विभाग ? मौत के 6 महीने बाद वैक्सीन की डोज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here