राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया,

Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को आज दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया। राहुल गांधी को मिले ईडी के समन के विरोध में बिना अनुमति के पैदल मार्च निकालने के विरोध में पुलिस हिरासत में लिए गए।सीएम गहलोत के साथ छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, रणदीप सुरजेवाला और कन्हैया कुमार को भी हिरासत में लिया गया। पैदल मार्च में शामिल होने के लिए सीएम गहलोत रविवार को ही राजसमंद से सीधे दिल्ली के लिए रवाना हो गए थे। सीएम गहलोत ने मोदी सरकार पर जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया। सीएम गहलोत ने कहा कि मोदी सरकार जांच एजेंसियों का डर दिखाकर कांग्रेस की आवाज को दबाना चाहती है। मोदी की तानाशाही को पूरा देश देख रहा है।

देश के हालात बहुत खतरनाक होंगे 

सीएम गहलोत ने कहा कि कांग्रेस के शांतिपूर्ण मार्च को रोका गया है। तानाशाही को पूरा देश देख रहा है। कांग्रेस मुख्यालय की घेराबंदी कर ली गई है। चारों तरफ पुलिस लगा दी गई है। नेता-कार्यकर्ताओं को पुलिस हिरासत में लिया गया है। मुझे भी ईडी जाते समय साथियों के साथ हिरातसत में लिया गया। आगे चलकर देश के हालात बहुत खतरनाक होंगे।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने निकाला पैदल मार्च

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी को ईडी का नोटिस जाने के मामले में जयपुर स्थित ईडी के कार्यालय तक पैदल मार्च निकाला। राजधानी जयपुर में प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से लेकर सी स्कीम स्थित ईडी कार्यालय तक कांग्रेस के नेता पैदल मार्च निकाला। ईडी कार्यालय के बाहर कांग्रेस कार्यकर्तओं ने प्रदर्शन किया। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के नेतृत्व में गहलोत सरकार के मंत्री, विधायक और पार्टी कार्यकर्ता सुबह 9 बजे ही प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर एकत्रित हो गए। शांतिपूर्ण पैदल मार्च में बड़ी संख्या कार्यकर्ता राहुल गांधी जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे।

यह खबर भी पढ़ें:-   जानिए आज 23 मई 2021 का पंचाग ,शुभ अशुभ मुहूर्त ,नक्षत्र और मोहिनी एकादशी विशेष ,पंडित बाल व्यास खेताराम जी शास्त्री के साथ

अंग्रेजों को भगाया, भाजपा को सत्ता से बेदखल करेंगे 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने पीए मोदी पर जमकर निशाना साधा। डोटासरा ने कहा कि पीएम मोदी हिटलर की तरह काम कर रहे हैं। मोदी सरकार तानाशाह सरकार है। हिटलरशाही सरकार है। हिटलर की तरह तानाशाही कर रही है। केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है। हमारी नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर गलत तरीके से आरोप लगाए गए है। प्रताड़ित करने के लिए ईडी का समन भेजा गया है। दोनों नेताओं पर कोई मामला बनता ही नहीं है। कोई मामला बनता ही नहीं है। 8 साल बाद ईडी ने समन जारी किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here