मुकाम में राजे बोली- बिना ईश्वर के कोई काम नहीं होता, दीपावली से पहले करूंगी ये काम, पढ़ें खबर

Google Ads new
जय श्री कृष्णा टेंट हाउस

श्री डूंगरगढ़ न्यूज़:-मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे बीकानेर में कहा, मेरा कोई काम सीधे सीधे नहीं होता भारतीय जनता पार्टी में मुख्यमंत्री चेहरे के लिए चल रही रस्साकस्सी के बीच पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा है कि मेरे जीवन में कुछ भी सीधे सीधे नहीं होता है। संघर्ष करने के बाद ही कुछ मिलता है। उन्होंने कहा कि करणी माता का आशीर्वाद मिल गया है तो आगे का काम अब सफल ही होगा।

 

राजे विशेष हेलीकॉप्टर से यहां पहुंची और करणी माता मंदिर में करीब आधा घंटे तक विशेष पूजा अर्चना की। इस दौरान उनके साथ बेटे दुष्यंत सिंह भी थे। दर्शन के बाद वो जनसंवाद कार्यक्रम में पहुंची, जहां कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि महाराजा गंगा सिंह करणी सिंह करणी माता का आशीर्वाद लेने आते थे, यहां सफेद चूहा दिखने के बाद ही वो आगे बढ़ते थे। तब उनका काम सफल होता था। आज मुझे भी माता ने आशीर्वाद दे दिया है। जब भगवान का आशीर्वाद मिल जाता है तो कौन है जो रास्ते में खड़ा हो सकता है।

 

गहलोत सरकार पर हमला

 

पूर्व मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार हमला बोलते हुए कहा कि पिछले चार साल में राजस्थान की जनता के साथ विश्वासघात हुआ। जनता ने आपको काम करने के लिए चुना था लेकिन आपने अपनी सरकार को बचाने के लिए, कुर्सी बचाने के लिए ये समय निकाल दिया।

 

मंच पर अकेली राजे

 

मंच पर सिर्फ राजे के लिए ही एक कुर्सी लगाई गई थी। किसी अन्य नेता को मंच पर स्थान नहीं दिया गया। कार्यक्रम का आयोजन करने वाले देवी सिंह भाटी स्वयं मंच पर नहीं थे। भाटी एक माइक अपने हाथ में रखकर सभा का संचालन करते रहे।

यह खबर भी पढ़ें:-   श्रीडूंगरगढ़ में गौवंश में फैल रहे लंपी रोग की रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठाए जिला कलेक्टर – डॉ विवेक माचरा

 

चार मंदिर में करेंगी दर्शन

 

वैसे तो राजे देव दर्शन के तहत चार मंदिर जाएंगी व चार नेताओं के घर शोक जताने जाएंगी, जबकि उनका मूल कार्यक्रम पूर्व मंत्री देवीसिंह भाटी के शक्ति प्रदर्शन में शामिल होना है। करणी माता मंदिर के बाद मुकाम धाम, लक्ष्मीनाथ मंदिर और गढ़ गणेश मंदिर में भी दर्शन करेंगी।

 

शहर-देहात भाजपा की दूरी

 

खास बात ये है कि शहर व देहात भाजपा ने इस कार्यक्रम से दूरी बना रखी है। शहर भाजपा अध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह स्वागत करने देशनोक पहुंचे लेकिन कार्यकारिणी के सदस्य नदारद थे। हेलीपेड पर पुष्प भेंट करने के बाद अखिलेश सिंह भी वहां से निकल गए।

 

आज ये है कार्यक्रम

 

मुकाम से दोपहर बाद बीकानेर शहर आएगी। यहां बीकानेर पूर्व की विधायक सिध्दि कुमारी के यहां उनके माताजी के निधन पर शोक व्यक्त करेंगी। इसके बाद माणिक चंद सुराना व सहीराम दुसाद के निधन पर भी शोक जताएगी। इन दोनों दिवंगत नेताओं के घर पहुंचेगी। सोमवार को लक्ष्मीनाथ मंदिर में दर्शन के साथ ही पूर्व विधायक गोपाल जोशी के निवास पर जाएंगी।

 

जूनागढ़ के आगे सभा पर तय

 

जिस तरह देशनोक में बिना कार्यक्रम के राजे ने जनसंवाद कार्यक्रम में हिस्सा लिया है, ठीक वैसे ही वो रविवार शाम को जूनागढ़ के आगे कार्यक्रम में हिस्सा लेंगी। इस कार्यक्रम में देवी सिंह भाटी के समर्थक पहुंच रहे हैं। खासतौर पर बीकानेर व श्रीकोलायत से बड़ी संख्या में कार्यकर्ता बीकानेर आएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here