WhatsApp Channel Click here Join Now

राजस्थान में वसुंधरा राजे ने बनाया रिकॉर्ड, जयपुर से जोधपुर के बीच 18 घंटे में 58 सभाएं की

विज्ञापन

श्रीडूंगरगढ़ न्युज Vasundhara Raje : राजस्थान में सियासी सरगर्मी उफान पर है. पूरब से लेकर पश्चिम और उत्तर से लेकर दक्षिणी राजस्थान तक सियासतदां नापने में जुटे हुए हैं. जहां सचिन पायलट अजमेर से जयपुर के लिए पैदल ही निकल पड़े हैं तो वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कभी मेवाड़ तो कभी मेवात में दिखाई दे रहे हैं. इसी बीच राजस्थान की पूर्व मुखिया यानि वसुंधरा राजे भी सियासी दौरों पर है. उन्होंने तो 18 घंटे के रिकॉर्ड टाइम में जोधपुर से जयपुर नाप लिया वो भी 58 स्वागत सभाओं के साथ.

Google Ad

वसुंधरा राजे ने ट्वीट करते हुए कहा कि 18 घंटे, 58 स्वागत सभाएँ, कहने को तो जोधपुर से जयपुर का सफ़र 335 किमी का है। लेकिन आज मैंने इसे अविस्मरणीय पलों और भावनाओं में नापा है। आपका अतुलनीय आशीर्वाद, स्नेह और विश्वास पाकर मन अभिभूत है। मैं नतमस्तक हूँ आपके इस प्रेम के आगे! जिसके बाद राजे ने एक बार फिर जय जय राजस्थान का नारा लगाया.

वसुंधरा राजे ने जहां 15 साल बाद खरनाल में लोकदेवता वीर तेजाजी के दर्शन किए तो वहीं दौरे के दौरान नागौर की 8 विधानसभा क्षेत्र खींवसर,नागौर, जायल,डेगाना,मकराना,डीडवाना,नावां एवं परबतसर को भी कवर किया. वीर तेजा की जन्मस्थली खरनाल में न केवल नागौर बल्कि मारवाड़ सहित सभी जाट और अन्य समाजों के लोगों की गहरी आस्था है. यही कारण है कि वसुंधरा राजे ने किसानों को साधने के लिए खरनाल से नागौर दौरे की शुरुआत की.

जोधपुर से नागौर नापने से पहले वसुंधरा राजे मेवाड़ दौरे पर थी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ माउंट आबू में सभा भी की. राजे के दौरे के दौरान जमकर भीड़ भी उमड़ी. राजे ने एक बार फिर अपनी सक्रियता बढ़ा कर मिशन चुनाव में जुट गई है, इन दौरों को विधानसभा चुनाव से जोड़ कर देखा जा रहा है, ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि आगामी दिनों में वसुंधरा राजे समेत प्रदेश के सभी दिग्गज नेता जनता जनार्दन को साधने के लिए क्या कुछ करते हैं.